ग्रामीणों की मदद से बालिका को पुलिस ने सकुशल किया बरामद अपहरणकर्ता गिरफ्तार

 ग्रामीणों की मदद से बालिका को पुलिस ने सकुशल किया बरामद अपहरणकर्ता गिरफ्तार



फतेहपुर।आप सभी ने तो पुरानी कहावत सुनी होगी जाको राखे साइयां मार सके ना कोये आज कहावत सच हुई है अपहरणकर्ता की साजिश हुई नाकामयाब ललौली पुलिस को मिली बड़ी सफलता घटनास्थल पर पहुंचे सीओ संजय सिंह ग्रामीणों की मदद से करीब 24 घंटे के बाद बच्ची सकुशल बरामद हुई अपहरणकर्ता सुजीत सिंह पुत्र रामबरन सिंह पर लगाए गए कई धाराओं पर मुकदमा वहीं सीओ संजय सिंह ने कहा कि सभी की मदद से यह सफलता मिली हुई है और किसी तरह की कोई हताहत नहीं हुई। 

मामला है ललौली थाना क्षेत्र के कोंडार गांव का जहां पर 2 दिन पहले सुजीत सिंह पुत्र रामबरन सिंह बाहर से गांव में आया था और सभी के साथ खाते पीते रहता था कल दोपहर करीब 1:00 बजे के आसपास राजावत सिंह की पुत्री दर्पण को नमकीन दिलाने के बहाने दुकान ले गया वहीं से लड़की को लेकर गायब हो गया कुछ देर बाद जब लड़की घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने ढूंढना चालू किया काफी तलाश करने के बाद पता चला कि सुजीत सिंह बच्ची को लेकर दुकान आया था और नमकीन दिलाया है इसके बाद कहां चला गया पता नहीं जैसे ही यह बात इलाके में पता चली तो ग्रामीणों में दहशत का माहौल फैल गया और अफरा तफरी का माहौल बना रहा सूर्यास्त होने से पहले ललौली थाने में सूचना दी गई फिर भी परिजनों ने हर जगह छानबीन करते रहे। पता चला की गुप्त सूत्रों से पता चला कि सुजीत सिंह अपनी बहन बड़ागांव बांदा जिला में है परिजनों ने रात को ही बड़ा गांव पहुंचकर एक फार्म से सुजीत को पकड़ा। वहां से लेकर कोंडार ले आए ग्रामीणों ने उससे बहुत पूछा फिर भी कुछ नहीं बताया फिर ललौली पुलिस को सौंप दिया पुलिस की कड़ी पूछताछ के बाद बताया कि शाम के समय जंगल के चार रास्ते में छोड़ दिया था तब हम सभी के मन में यही चल रहा था कि लड़की जिंदा है या नहीं यह बात आग की तरह फैलती चली जा रही थी तभी ग्रामीणों की कड़ी खोजबीन के बाद जंगल में अघोरी बाबा के मंदिर के पास एक गड्ढा में लड़की को सकुशल बरामद की गई वहीं सीओ संजय सिंह ने बताया कि अपहरणकर्ता सुजीत सिंह नशे में था जिस कारण से वह यह नहीं समझ पाया कि लड़की साथ में चली आई है जैसे ही उसको पता चला कि लड़की मेरे साथ है तो उसने घर के लिए भेज दिया था वही पिता राजवंत सिंह ने आरोप लगाया कि यह लड़की को किडनैप करके बेचना चाहता होगा या फिर जादू टोना के लिए बलि देने की फिराक में हो सकता था।