विकास भवन सभगार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में अधिकारियों को ईवीएम का दिया गया प्रशिक्षण

 विकास भवन सभगार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में अधिकारियों को ईवीएम का  दिया गया प्रशिक्षण 



फतेहपुर।विकास भवन सभगार में जिलाधिकारी श्रीमती अपूर्वा दुबे की अध्यक्षता में अधिकारियों को ईवीएम का प्रशिक्षण दिया गया । उन्होंने कहा कि जो प्रशिक्षण में बताया गया है उसको ध्यानपूर्वक सीख, समझ ले ताकि चुनाव के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या न हो । उन्होंने कहा कि निर्वाचन को पारदर्शिता, निष्पक्ष, टीम भावना के साथ करें । उन्होंने कहा कहा कि बूथों का भ्रमण कर लिया जाए और जिन बूथों या आस पास  ईंट पत्थर है उनको हटवा दिया जाए । मास्टर ट्रेनर कौशल किशोर ने बताया कि ईवीएम मशीनों में नियंत्रण इकाई सीयू, बीयू और वीवी पैट को जोड़ने के विषय मे जानकारी दी । उन्होंने कहा कि बीयू पर लगे बैलेट पेपर के साथ उम्मीदवार का चुनाव चिन्ह, नाम, फोटोग्राफ जो निर्वाचन में उपयोग के लिए लगा होगा और चुनाव को पारदर्शिता बनने के लिए वीवी पैट का प्रयोग किया जा रहा है, वोट डालने के समय इस स्लिप निकलेगी जिसमे मतदाता द्वारा देखा जा सकता है की किसको वोट दिया गया है और स्लिप उसी में गिर जाएगी, और इस मशीन को सूर्य की रोशनी में न रखे । वीवी पैट मशीन में एक पेपर रोल लगाया जाएगा जिसमे 1200 वोट की स्लिप गिरेगी । सीयू में एक बैटरी रहेगी चुनाव के बाद क्लोज का बटन दबाएंगे ताकि बैटरी डिस्चार्ज न हो । उन्होंने कहा कि मॉक पोल वोट एजेंटों की उपस्थिति में किया जाय । 

तत्पश्चात निर्वाचन से जुड़े अधिकारियों के साथ सामीक्षा कि , उन्होंने मतदान केन्द्र/मतदान केंद्रों की थानेवार सामीक्षा की जिसमे संवेदनशील/अतिसंवेदनशील की सामीक्षा के दौरान थाना प्रभारियों से अलग-अलग चर्चा की और कहा कि संवेदनशील/अतिसंवेदनशील(किस कारण से है)विषयवार अंकित करते हुए पूरा व्योरा सहित सूची दे । चुनाव रजिस्टर को प्रभावी कर लें और शस्त्र लाईसेंस की काउंटिंग कर ली जाए ।इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त/राजस्व विनय कुमार पाठक, अपर जिलाधिकारी न्यायिक धीरेन्द्र प्रताप, उपजिलाधिकारी सदर, बिन्दकी, खागा, क्षेत्राधिकारी, समस्त अपर उप जिलाधिकारी, थाना प्रभारी सहित निर्वाचन से सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे ।