चोरों के हौसले बुलंद बीती रात 3 घरों में हुई चोरी

 चोरों के हौसले बुलंद बीती रात 3 घरों में हुई चोरी



राधा नगर पूर्वी नई बस्ती में चोरी के दौरान सेवानिवृत्त शिक्षक की की गई निर्मम हत्या


तीनों घरों से लाखों रुपए के जेवरात व नगदी की हुई लूट


फतेहपुर। पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह के लाख प्रयासों के बावजूद जनपद फतेहपुर में चोरी की घटनाओं पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। बीती रात राधा नगर पूर्वी नई बस्ती में एक साथ तीन घरों में चोरी होने व सेवानिवृत्त शिक्षक बलबीर सिंह कछवाह की हत्या किए जाने से पूरे मोहल्ले में सनसनी का माहौल है।आपको बताते चलें कि बीती रात कुछ अज्ञात चोरों ने सदर कोतवाली क्षेत्र के राधा नगर चौकी क्षेत्र के मोहल्ला पूर्वी नई बस्ती में बीती रात चोरों ने लगातार तीन घरों में चोरी करके वहां से तकरीबन 25 से 30 लाख के जेवरात, मास्टर बलबीर सिंह कछवाह के घर से तकरीबन ₹200000 नगद व अन्य दो घरों से भी लगभग 50 से ₹60000 नगद व जेवरात चोरी करने के दौरान सेवानिवृत्त शिक्षक बलवीर सिंह ईट से सिर में हमला कर मौत के घाट उतार दिया। जानकारी के अनुसार चोरी के दौरान बलबीर सिंह की नींद खुल गई जिससे घबराए चोरों ने ईटों से कुचलकर बलबीर सिंह की हत्या कर दी। सुबह जब पुलिस प्रशासन को इस विषय में जानकारी हुई तो सूचना पर पहुंची पुलिस ने आनन-फानन में शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वही इस बड़ी घटना की जानकारी जब आला अधिकारियों को हुई तो समस्त आला अधिकारी क्राइम स्पॉट पर पहुंच गए। जिनमें पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक राजेश, कुमार क्षेत्राधिकारी नगर संजय कुमार मिश्र, कोतवाली प्रभारी, राधा नगर चौकी इंचार्ज राजेश कुमार सिंह समेत नगर की तमाम पुलिस फोर्स मौजूद रही। जांच के उपरांत कुछ संदिग्ध लोगों को पुलिस ने अपनी गिरफ्त में लेकर पूछताछ जारी कर दी है। किंतु अभी तक अपराधियों का कोई सुराग नहीं लगा, ना ही यह जानकारी हो पाई है कि आखिरकार इस चोरी में कौन कौन शामिल थे और कितने लोग थे। किंतु यह तो साफ है कि चोरी की घटना को अंजाम देने वाले चोरों के हौसले बुलंद है और नित प्रतिदिन नई-नई घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। पुलिस प्रशासन की लाख शक्ति के बावजूद चोरों पर अंकुश नहीं लग पा रहा है।

अब देखना यह है कि क्या पुलिस अपराधियों को पकड़ने में कामयाब हो पाएगी।क्या सेवानिवृत्त शिक्षक बलवीर सिंह कछवाह के हत्यारों को सजा मिल पाएगी।आखिरकार पुलिस के शक की सुई किस ओर इशारा करती है।क्या दो अन्य घरों में होने वाली चोरी और मौके पर पाए गए सबूतों से पुलिस चोरों की निशानदेही कर पाएगी।