भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीयता वादी गुट ने मनाया विश्वासघात दिवस

 भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीयता वादी गुट ने मनाया विश्वासघात दिवस



 केंद्र सरकार पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप


बिंदकी फतेहपुर।भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीयता वादी गुट द्वारा विश्वासघात दिवस मनाया गया जिसमें आरोप लगाया गया कि केंद्र सरकार द्वारा जो भी वादे किए गए थे वह वादे पूरे नहीं किए गए केंद्र सरकार द्वारा वादाखिलाफी की गई है इसी को लेकर यह विश्वासघात दिवस मनाया गया है। नगर के तहसील परिसर में सोमवार को भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीयता वादी गुट द्वारा एक बैठक आयोजित कर विश्वासघात दिवस मनाया गया जिसको संबोधित करते हुए यूनियन के प्रदेश के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रामसहाय पटेल ने कहा कि केंद्र सरकार की वादा खिलाफी के तहत यह विश्वासघात दिवस मनाया जा रहा है उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के वादे के अनुसार अभी तक न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारण समिति का गठन नहीं किया गया है इतना ही नहीं आंदोलन के दौरान किसानों पर दर्ज किए मुकदमे वापस अभी तक नहीं दिए गए लखीमपुर खीरी की घटना के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा के पिता गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा को केंद्रीय मंत्रिमंडल से हटाया नहीं गया मांग की गई कि आंदोलन के दौरान शहीद किसानों को शहीद का दर्जा दिया जाए तथा प्रत्येक परिवार को 25-25 लाख रुपए की आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाए। बैठक में 12 वर्ष से अधूरे पड़े बिंदकी बाईपास का मुद्दा छाया रहा कहा गया कि बाईपास नहीं बना अभी भी अधूरा पड़ा है जिसके चलते नगर के अंदर जाम लगता है दुर्घटनाएं होती हो कभी-कभी तो लोग मौत का शिकार हो जाते हैं इतना ही नहीं यह भी कहा गया कि चौडगरा कस्बे से बिंदकी कस्बा होते हुए ललौली तक सड़क में जगह-जगह गड्ढे हैं दुर्घटनाएं होती है लेकिन यह गड्ढे भी ठीक नहीं किए गए सड़क जर्जर है लोगों का चलना मुश्किल हो रहा है इस मौके पर यूनियन के प्रयागराज मंडल अध्यक्ष अशोक उत्तम तहसील अध्यक्ष नवल सिंह पटेल जिला प्रवक्ता दिनेश शुक्ला के अलावा राहुल अनिल मोईद सफी अहमद चीनियर राजकुमार अजीज शिवनारायण अमित किशन ममता देवी शालिनी देवी सावित्री देवी ननकी विश्वकर्मा सहित तमाम लोग मौजूद रहे।