सरकारी राशन वितरण में कोटेदार की मनमानी से कार्डधारक परेशान

 सरकारी राशन वितरण में कोटेदार की मनमानी से कार्डधारक परेशान


!


प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना के अंतर्गत मिलने वाले सरकारी राशन में कोटेदार 35 किलो के राशन में 3 किलो की कर रहा है कटौती


राशन वितरण में कोटेदार घटतौली कर मार रहा है गरीबों का हक!


हुसैनगंज (फतेहपुर) । भिटौरा ब्लॉक के आंबी गांव में राशन वितरण का बुरा हाल है,सरकार प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र के गरीब परिवारों को प्रतिमाह राशन मुहैया करा रही है, लेकिन विभागीय भ्रष्टाचार के चलते कोटेदार गरीब परिवारों के हक पर डांका डाल रहा है!मामला भिटौरा ब्लॉक के आंबी गांव का है, यहाँ करीब 361 कार्ड धारक है,गरीब परिवारों के लिए सरकार प्रति माह राशन मुहैया कराती है,प्रदेश सरकार की घोषणा के बाद इधर कई माह से गरीब परिवारों के लिए फ्री राशन का वितरण कराया जा रहा है!जिसमे गेंहू और चावल का वितरण किया जाता था,पिछले माह राशन के अलावा नमक,चना और रिफाइंड ऑयल का वितरण हुआ लेकिन आम्बी गांव में रिफाइंड ऑयल किसी भी कार्ड धारक को नहीं मिला, आंबी गांव में राशन में धाघली का आलम यह है कि कोटेदार 35 किलो गेहूं और चावल के राशन में 3 किलो की कटौती यानि 10 किलो राशन में 1किलो की कटौती भरपूर हो रही है!अगर कार्ड धारक कटौती न करने के लिए कोटेदार से कहता है तो कोटेदार उसे यह कहकर भगा देता है कि फ्री में राशन दे रहे हैं लेना हो तो लो,नहीं तो अपने घर जाओ!जरा आप वीडियो में देखिए की कोटेदार किस तरह से तराजू में हेराफेरी कर रहा है!कार्ड धारक अवध रानी पत्नी लखन,जनक दुलारी पत्नी प्रेम,कमलेश, सुनीता पत्नी राज कुमार सहित कई कार्ड धारको ने बताया कि कोटेदार राशन वितरण में बड़ा मनमानी कर रहा है, दारू के नशे में राशन का वितरण करता है,पिछले दिसंबर माह में चना और नमक दिया गया लेकिन रिफाइंड ऑयल किसी को भी नहीं मिला!जब इस संबंध में सप्लाई इंस्पेक्टर सुशील कुमार से बात की गई तो उनका कहना था कि हम जाकर देखते हैं!