बाँदा जनपद का ऐलान, प्लस पचहत्तर हो मतदान, - जिलाधकारी बाँदा

 बाँदा जनपद का ऐलान, प्लस पचहत्तर हो मतदान, - जिलाधकारी बाँदा



संवाददाता बाँदा - जिलाधकारी अनुराग पटेल - मुझे आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि ईश्वर की कृपा से आप अपने घर में परिवार सहित कुशलमंगल होंगे। इस बसन्ती मौसम की आपको बहुत-बहुत बधाई। आपने अपने जीवन के अनेकों बरस सरकारी सेवा में गुजारे है एवं कइयों चुनाव कराये है। हमें उम्मीद ही नही पूर्ण

विश्वास है कि आप अपने जनपद-प्रदेश व देश के विकास तथा आगामी विधान सभा सामान्य निर्वाचन- 2022 में मतदान करने हेतु चौपाल चर्चा में मशगूल होंगे। आपकी सरकारी सेवा के दौरान विभिन्न चुनावों में आप द्वारा की गयी ड्यूटी के अनुभवों से विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 में ज्यादा से ज्यादा मतदान होगा जिससे लोकतंत्र मजबूत होगा। आपके अपने उत्तर प्रदेश में विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 की रणभेरी बज चुकी है। प्रदेश में 07 चरणों में मतदान होना है जिसके अनुकम में आपके जनपद बॉदा की चारों विधानसभाओं- तिन्दवारी, बबेरू, नरैनी एवं बौदा में चतुर्थ चरण में 23 फरवरी, 2022 को मतदान

होना नियत हैं। 08 जनवरी, 2022 से निर्वाचन प्रकिया प्रारम्भ हो गई हैं जो 27 जनवरी, 2022 से नामांकन की प्रक्रिया से शुरू होकर 10 मार्च, 2022 को मतगणना एवं परिणाम घोषित होने के उपरान्त 12 मार्च, 2022 को समाप्त होगी। जनपद की चारों विधानसभाओं में 23 फरवरी, 2022 को मतदान एवं 10 मार्च, 2022 को मतगणना सम्पन्न होगी। विगत विधान सभा सामान्य

निर्वाचन-2017 में चारों विधानसभाओं में कुल मिलाकर 59.65 प्रतिशत मतदान हुआ था जो 60 प्रतिशत से भी कम था जिसके कारण इस बार 23 फरवरी, 2022 को होने वाले मतदान में मतदान बढाकर 75 प्रतिशत से अधिक (75%+) किया जाना है। आपके सहयोग के बिना उक्त लक्ष्य को प्राप्त करना सम्भव नही है :-

बाँदा जनपद का ऐलान, प्लस पचहत्तर हो मतदान।"

अतः आप व आपके क्षेत्र/मुहल्ले के सभी भाई-बहनों, बडे-बुजुर्गो से गुजारिश है कि 23 फरवरी, 2022 को जनपद की चारो विधानसभाओं में होने वाले मतदान में अपनी विधान सभा में अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर जाकर स्वंय मतदान करें एवं अपने परिवारीजनों एवं मुहल्ले के समस्त मतदाताओं को मतदान करने हेतु न केवल उन्हें प्रेरित करें अपितु उन्हें बूथ पर ले जाकर उनसे मतदान कराने का कष्ट करें जिससे आपका जनपद 75%+ मतदान का लक्ष्य प्राप्त कर लोकतंत्र को मजबूत करने में अहम भूमिका निभा सके।