नौकरी देने के बहाने कॉलेज के प्रिंसिपल पर 2 लाख रुपए की ठगी करने के लगे गंभीर आरोप

 नौकरी देने के बहाने  कॉलेज के प्रिंसिपल पर 2 लाख रुपए की ठगी करने के लगे गंभीर आरोप



बाँदा संवाददाता।स्पर्स राजकीय दृष्टिबाधित बालक इंटर कॉलेज महोखर बांदा के प्रिंसिपल पर  गंभीर आरोप लगाए गए बताया गया की ₹2लाख रुपए लेकर नौकरी न देने एवं मारपीट करने का  गंभीर आरोप । पीड़ित ने बताया कि मुझे विद्यालय में वाहन चलाने हेतु रिक्त पद बता कर के भर्ती करने के नाम पर ₹2लाख की ठगी की गई है। कॉलेज में माली के पद पर तैनात कर्मचारी महेंद्र यादव के माध्यम से प्रिंसिपल हरीश चंद्र शुक्ला के द्वारा ₹2लाख लिए गए हैं। महेंद्र प्रताप यादव पीड़ित के गांव का निवासी है जो कि कॉलेज में माली के पद पर कार्यरत है। 3 महीने काम कराने के बाद तक जॉइनिंग लेटर नहीं दिया गया जब पीड़ित के द्वारा जॉइनिंग लेटर एवं वेतन मांगा गया तो उसे धक्के मार कर के बाहर निकाल दिया गया कहा गया।आपको बता दें पूरा मामला बांदा जनपद के देहात कोतवाली अंतर्गत महोखर गांव का है। जहां के निवासी धीरेंद्र कुमार पुत्र रामाश्रय चमार (अनुसूचित जाति) के द्वारा बताया गया कि स्पर्स राजकीय दृष्टिबाधित बालक इंटर कॉलेज महोखर के प्रिंसिपल के द्वारा  पीड़ित को नौकरी का झांसा देकर के ₹2लाख की ठगी की गई है। पीड़ित के गांव के ही रहने वाले महेंद्र प्रताप यादव पुत्र भोला यादव जो कि कॉलेज में माली के पद पर कार्यरत है। उस के माध्यम से प्रिंसिपल ने वाहन चालक के पद पर नियुक्त करने हेतु कहा कि अपने कागजात एवं ₹2लाख दे दो मैं तुम्हें वाहन चालक की नौकरी दे दूंगा ₹15 हजार प्रति माह वेतन मिलेगा पीड़ित के अनुसार पीड़ित एक गरीब आदमी है  किसी तरह से रुपये इकट्ठा करके प्रिंसिपल को दे दिए, पीड़ित को जॉइनिंग लेटर नही दिया गया न ही कोई वेतन दिया, गया 3 माह तक कार्य करने के बाद पीड़ित ने जब वेतन मांगा तो उसके साथ मारपीट की गई एवं कॉलेज से निकाल दिया गया।  परेशान होकर पीड़ित पुलिस अधीक्षक के समक्ष न्याय की गुहार लगाई है। उक्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने एवं पीड़ित का पैसा वापस दिलाने की मांग की गई है।