प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ने सड़कों को दी थी सौगात किंतु जर्जर सड़कें बयां कर रही हैं अपनी औकात

 प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ने सड़कों को दी थी सौगात किंतु जर्जर सड़कें बयां कर रही हैं अपनी औकात



पत्थर कटा चौराहे से लेकर पटेल नगर चौराहे तक डिवाइडर तो बन गया पर नहीं बनी सड़क


पीरनपुर की अधूरी पुलिया का निर्माण क्या किसी बड़े अप्रिय हादसे का कर रही है इंतजार


फतेहपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने बड़े बयान में कहा था कि उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों की सड़कों को गड्ढा मुक्त किया जाएगा और चलने योग्य बनाया जाएगा जिससे हो रही दुर्घटनाओं में अंकुश लग सकेगा। मुख्यमंत्री के बड़े बयान का समूचे प्रदेश में भले ही असर पड़ता नजर आ रहा हो किंतु इस जनपद में उनके इस बड़े बयान की धज्जियां उड़ाई जा रही है। मालूम रहे कि उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव घोषित होने से पहले उप मुख्यमंत्री एवं लोक निर्माण विभाग के कैबिनेट  मंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने फतेहपुर जनपद को सड़कों के निर्माण की कई सौगात दी थी और कहा था कि जनपद की सड़कों को गड्ढा मुक्त कर चलने योग्य बनाया जाए जिससे हो रही दुर्घटनाओं में अंकुश लग सके और आवागमन में किसी को मुसीबतों का सामना ना करना पड़े किंतु उप मुख्यमंत्री के निर्देशों का आज तक नहीं हो सका है पालन जिससे जनपद वासियों को आवागमन में भारी मशक्कत का सामना करना पड़ता है और धूल मिट्टी से होने वाली बीमारियों से ग्रसित भी हो रहे हैं जिससे लोग आक्रोशित हैं। गौरतलब है कि पत्थर कटा चौराहे से लेकर पटेल नगर चौराहे तक की सड़क बुरी तरह से जर्जर है और इतना ही नहीं शहर के पीरनपुर मोहल्ले में बन रही पुलिया का निर्माण विभागीय अधिकारियों की लापरवाही के चलते गुमनाम होती जा रही है और आए दिन इस पुलिया के पास जानलेवा दुर्घटनाएं होती रहती हैं और राहगीर आए दिन चोटिल होते रहते हैं। यदि पुलिया का निर्माण नहीं कराया गया तो किसी भी दिन और किसी भी समय बड़ा हादसा घटित होने से इनकार नहीं किया जा सकता है।