विद्युत उपभोक्ता ने लगाए विद्युत कर्मियों पर गंभीर आरोप

 विद्युत उपभोक्ता ने लगाए विद्युत कर्मियों पर गंभीर आरोप



बाँदा संवाददाता। बिजली विभाग के ऊपर उपभोक्ता के द्वारा गंभीर आरोप लगाए गए हैं जिसमें बताया गया किस सन 2018 में 2 माह का बिजली बिल ₹24 हजार रुपये आ गया था। जिसके लिए पीड़ित बिजली विभाग के कार्यालय में दौड़ती रही लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई तब पीड़ित के द्वारा उपभोक्ता फोरम ने वाद दर्ज कराया गया उपभोक्ता फोरम में वाद दर्ज होने के बाद  से लगातार बिजली विभाग के कर्मचारियों द्वारा प्रसार बनाया जा रहा है कि मुकदमा वापस लो और मीटर वापस करो जबकि पीड़ित के मुताबिक मीटर अदालत में जमा हो गया है पीड़ित के द्वारा बताया गया के बिजली विभाग के कर्मचारियों के द्वारा घर में जाकर के कहा  कि अपना मुकदमा वापस लो और बिजली का जो मीटर  हमको वापस करो अन्यथा फर्जी मुकदमे में फंसा देने का आरोप लगाया आपको बता दें कि पूरा मामला  जसपुरा, थाना जसपुरा, जनपद बांदा का है। जंहा पर  विद्युत बिल गलत भेजे जाने पर पीड़ित लगभग 3 वर्षों तक विद्युत विभाग के चक्कर लगाती रही। विवश होकर उपभोक्ता फोरम बांदा मे वाद दायर किया। वाद दायर करने से विद्युत विभाग के कर्मचारी अधिकारी पीड़ित व पीड़ित के पति को धमकी व जान से मारने का प्रयास करने लगे।जब पीड़ित के पति ने अपनी हत्या करने के प्रयास का मुकदमा न्यायालय में दायर किया तो उक्त विद्युत विभाग कर्मचारी पीड़ित के घर आकर घर के अन्दर घुसकर  कहा की अपनी शिकायत वापस ले लो, नहीं तो अच्छा नहीं होगा। और पूरे घर का वीडियो बनाकर धमकी देते हुए चले गये। पीड़ित ने आरोप लगाया कि उसको पूरा विश्वास है कि विद्युत विभाग वाले पीड़ित के पति के ऊपर कोई फर्जी मुकदमा लगवा सकते हैं। जिससे अपनी सुरक्षा हेतु पुलिस अधीक्षक के समक्ष न्याय की गुहार लगाई