स्वास्थ्य विभाग की कुंभकरणी नींद के चलते गुलजार अस्पताल व पैथोलॉजी

 स्वास्थ्य विभाग की कुंभकरणी नींद के चलते गुलजार अस्पताल व पैथोलॉजी


 

*अवैध हॉस्पिटल में डीएनसी कारोबार के वायरल  वीडियो देख  विभाग नें मुँह मोडा*



*तांबेश्वर गोपालगंज गाजीपुर के वायरल वीडियो ने व्यवस्था की खोली थी पोल*


*विभाग नें थमाया जांच के नाम का लॉलीपॉप*



*फतेहपुर*

*जनपद में 1 सप्ताह पूर्व  P.H.C. गोपालगंज के समीप स्वास्थ्य विभाग की पोल खोलने वाले DNC  कारोबार के दौरान अलग-अलग उम्र की महिलाओं के साथ अल्ट्रासाउंड की व्यवस्था, पैथोलॉजी, के खेल का जानकारी देता B.A.M.S डाक्टर का वीडियो कैमरे में कैद हो गया!*


*वीडियो नर्सिंग होम से वायरल होने के बाद भी व्यवस्था जस की तस बनी हुई है! शहर के तांबेश्वर मंदिर के समीप एक नर्सिंग होम में डिलीवरी के दौरान बच्चे की मौत के बाद जच्चा (मां) की बिगड़ी हालत के बाद सेवानिवृत्त सैनिकों ने ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग के बावजूद व्यवस्था में ना तो सुधार की दिशा में ना तो कार्यवाही की गई ना ही किसी प्रकार की पड़ताल में ठोस नतीजे सामने आए।*


*जिसके बाद चर्चा आम है कि स्वास्थ विभाग में स्वास्थ्य के जिम्मेदारों का ही स्वास्थ्य खराब है जिसके चलते ना तो समय रहते कार्यवाही होती है ना ही अवैध झोलाछाप नर्सिंग होम पैथोलॉजी अल्ट्रासाउंड केंद्रों पर नकेल कसी जाती है बल्कि प्रोत्साहन स्वरूप दुर्घटना होने के बाद जांच का झुनझुना थमा कर पीड़ित को टरका दिया जाता है यदि ऐसा न होता तो बीते 1 सप्ताह से अधिक समय से वायरल हो रहे वीडियो व घटना के संबंध में करवाई ना होना स्वास्थ विभाग के मुलाजिमों को सवालों के कटघरे में खड़ा कर रहा है!*


*जबकि जिले की जिला अधिकारी स्वयं मातृशक्ति होने के बावजूद जिले  में व्याप्त व्यवस्था ने महकमे की साख को बट्टा लगाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी ! जाट के नाम का झुनझुना थमानें वाले जिम्मेदारों से न्याय की उम्मीद में पीडित के साथ जनता भी ठोंस  करवाई की जानकारी के बारे में उत्सुक है!*