किडनी स्वस्थ रखना है तो प्रतिदिन दो से तीन लीटर पिये साफ पानी

 किडनी स्वस्थ रखना है तो प्रतिदिन दो से तीन लीटर पिये साफ पानी



जिला अस्पताल में अब तक मिला 637 मरीजों को डायलिसिस का लाभ 


 ब्लड प्रेशर और मधुमेह रखे नियंत्रित, पेन किलर खाने से बचें 


फतेहपुर। यदि आपकी किडनी स्वस्थ्य हैं तो यकीन मानिये आप बहुत किस्मती है। किडनी शरीर का एक महत्वपूर्ण आंतरिक अंग है जो शरीर की अशुद्धियों को मूत्र के माध्यम से बाहर करता है। अगर किडनी ठीक से काम नहीं करती तो मरीज को सप्ताह में दो से तीन बार डायलिसिस कराना पडता है। जिला अस्पताल के फिजीशियन और डायलिसिस सर्विस के नोडल डा0 एन0के0 सक्सेना कहते हैं कि दिनचर्या नियमित रखने खानपान पर ध्यान रखने और प्रतिदिन दो से तीन लीटर साफ पानी पीने से किडनी की बीमारी से काफी हद तक बचा जा सकता है। इसके साथ ही ब्लड प्रेशर और मधुमेह भी किडनी खराब करने का एक कारण माना जाता है। 

जिला अस्पताल में आठ फरवरी 2022 को जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे ने डायलिसिस सेवा का शुभारंभ किया था तब से यहां मरीजों को डायलिसिस सुविधा का लाभ मिल रहा है। इससे पहले मरीजों को प्रयागराज, लखनऊ और कानपुर महानगर जाना पडता था। जिला अस्पताल मे पांच डायलिसिस मशीनें लगी हुई हैं जिनमें प्रतिदिन 10 से 15 मरीजों की डायलिसिसि की जाती है। डायलिसिस टेक्नीशियन प्रमोद कुशवाहा ने बताया कि डाक्टर की सलाह के बाद मरीजों की डायलिसिस की जा रही है। अभी कम से कम पांच मशीनों की जरूरत और है जिससे मरीजों को डायलिसिस के लिये ज्यादा इंतजार न करना पडे। 

जिला अस्पताल में डायलिसिस करा रहे सातो नरैनी के रहने वाले अखिलेश ने बताया कि करीब एक वर्ष से किडनी की समस्या से ग्रसित है। इससे पहले वह कानपुर में डायलिसिस कराते थे लेकिन जिला अस्पताल में यह सुविधा शुरू होने से बहुत राहत है। अब समय और पैसा दोनों बचता है। इसी प्रकार डायलिसिस करा रही नीतू त्रिपाठी ने बताया कि उन्हे उल्टी की समस्या हुआ करती थी जब डाक्टर से सलाह ली तो जांच कराई जिससे किडनी की समस्या आई। बीमारी को लेकर बहुत परेशान थे लेकिन जिला अस्पताल में डायलिसिस हो जाने से राहत है। 


इनसेट -

- भूख में कमी आना शरीर में विषाक्त पदार्थों और वेस्ट का संचय भी आपकी भूख को कम कर सकता है, जिससे वजन घटने लगता है। ...

- टखने और पैरों में सूजन 

- त्वचा में सूखापन और खुजली 

- कमजोरी और थकान महसूस होना

- बार-बार पेशाब आना


किडनी को स्वस्थ रखने के तरीके

- स्वस्थ भोजन और नियमित व्यायाम के साथ अपने वजन का संतुलन बनाए रखें। 

- ताजे फल और सब्जियों युक्त आहार लें। आहार में परिष्कृत खाघ पदार्थ, चीनी, वसा और मांस का सेवन घटाना चाहिए। 

- ऐसे लोग जिनकी उम्र 40 के ऊपर है, भोजन में कम नमक लें जिससे उच्च रक्तचाप और किडनी की पथरी के रोकथाम में मदद मिले।

- धूम्रपान और तंबाकू के उत्पादों का सेवन ना करे।

- लम्बे समय तक दर्द निवारक दवाई लेने से किडनी को नुकसान होने का भी भय रहता है। 

रोज 3 लीटर से अधिक (10-12 गिलास) पानी पीएँ। पर्याप्त पानी पीने से पथरी को बनने से रोकने में सहायता मिलती है।

किडनी की बीमारियाँ अक्सर छुपी हुई एवं गंभीर होती है। नियमित रूप से किडनी का चेकअप कराना चाहिये।