महिला महाविद्यालय में शिक्षक विधायक ने छात्राओं को वितरित किए टैबलेट

 महिला महाविद्यालय में शिक्षक विधायक ने छात्राओं को वितरित किए टैबलेट



फतेहपुर।महिला महाविद्यालय की स्नातकोत्तर छात्राओं को मिला टैबलेट का तोहफा उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी लैपटाॅप/टैबलेट/स्मार्टफोन वितरण योजना के अन्तर्गत शहर के प्रतिष्ठित डाॅ0 भीमराव आम्बेडकर राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, फतेहपुर की 30 स्नातकोत्तर छात्राओं को शिक्षक विधायक सुरेश त्रिपाठी के हाथों से टैबलेट प्राप्त हुए। महाविद्यालय में आयोजित टैबलेट वितरण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित हुये शिक्षक विधायक ने टैबलेट प्राप्त करने वाली समस्त छात्राओं को बधाई दी और कहा कि यह महाविद्यालय की छात्राओं को तकनीक से जोड़ने की दिशा में अत्यन्त महत्वपूर्ण पहल है। प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में डिजिटल उत्तर प्रदेश का सपना साकार किया जा रहा है और मुख्यमंत्री की परिकल्पना से ही साकार हो पाया है। छात्राएं टैबलेट का उपयोग करके आधुनिक तकनीकी शिक्षा प्राप्त करें और सभी क्षेत्रों में अपनी सफलता का परचम लहरायें। मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए महाविद्यालय प्राचार्य डाॅ0 अपर्णा मिश्रा ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की पहल से सबका साथ सबका विकास का सपना साकार हो रहा है। छात्राओं में तकनीकी शिक्षा से जुड़ने को लेकर बहुत उत्साह है और ये टैबलेट उनके इस सपने को पूरा करने में अत्यन्त सहायक सिद्ध होंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में ग्रामसभा टीसी की ग्राम प्रधान श्रीमती अंजली मिश्रा ने कहा कि आज के आधुनिक युग में छात्राएं प्रत्येक क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहीं हैं। डिजिटल इण्डिया से जुड़कर छात्राओं की यह प्रगति दिन दूनी रात चैगुनी बढ़ेगी। फतेहपुर जिले के लैपटाॅप/टैबलेट/स्मार्टफोन कार्यक्रम को अपने कुशल दिशा निर्देशन में सम्पादित करा रहे जिला विधालय निरीक्षक महेन्द्र प्रताप सिंह ने महाविद्यालय की समस्त व्यवस्था की सराहना की और नई तकनीकी शिक्षा में डिजिटल डिवाइसेस की भूमिका को विस्तार से समझाया। कार्यक्रम में अन्य अतिथियों के रूप में प्रसून तिवारी तथा आलोक शुक्ला ने भी छात्राओं को बधाई दी।

सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन करते हुए नोड़ल अधिकारी डाॅ0 प्रशान्त द्विवेदी ने कहा कि कोविड-19 के आने के बाद आॅनलाइन शिक्षा महत्वपूर्ण ही नहीं वरन अनिवार्य बन गयी है। ग्रामीण परिवेश से आयी हुयी छात्राओं के लिए डिजिटल डिवाइड एक बहुत बड़ी चुनौती है। किन्तु उत्तर प्रदेश सरकार की इस युग परिवर्तनीय परियोजना के माध्यम से छात्राएं न सिर्फ तकनीकी शिक्षा से जुड़ेंगी बल्कि अब वे बिना किसी परेशानी के आनलाइन कक्षाएं भी नियमित रूप से ले सकेंगी। उच्च शिक्षा जगत में यह एक क्रान्तिकारी परिवर्तन सिद्ध होगा। लैपटाॅप/टैबलेट/स्मार्टफोन वितरण समिति के सदस्य डाॅ0 शकुन्तला तथा श्री रमेश सिंह ने समस्त अतिथियों का स्वागत किया और इस कार्यक्रम के आयोजन में विशेष सहयोग प्रदान किया। इस अवसर पर स्नातकोत्तर प्रवेश समिति प्रभारी डाॅ0 शोभा सक्सेना, डाॅ0 लक्ष्मीना भारती तथा डाॅ0 उत्तम कुमार शुक्ल के साथ समस्त महाविद्यालय परिवार उपस्थित रहा।