जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनान्तर्गत लाभ प्राप्त कर रहे लाभार्थियों का सोशल आडिट कराये जाने दिए निर्देश

 जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनान्तर्गत लाभ प्राप्त कर रहे लाभार्थियों का सोशल आडिट कराये जाने दिए निर्देश



फतेहपुर।जिलाधिकारी श्रीमती अपूर्वा दुबे ने बताया कि शासनादेशनुसार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनान्तर्गत लाभ प्राप्त कर रहे लाभार्थियों का सोशल आडिट कराये जाने के निर्देश दिये गये हैं कि योजनान्तर्गत लाभार्थियों के सत्यापन हेतु सोशल ऑडिट के माध्यम से कार्यवाही की जाए ताकि ग्राम सभा द्वारा लाभ प्राप्त कर रहे लाभार्थियों की सूची अवलोकन कर अपात्र लाभार्थियों के बारे में बताया जा सके और अब तक योजना के लाभ से वंचित पात्र लाभार्थियों का चिन्हाकन करते हुए लाभ प्रदान करने हेतु आवश्यक कार्यवाही की जा सके। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों के सोशल आडिट द्वारा सत्यापन हेतु निम्नानुसार निर्देश  दिये  गये है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सोशल आडिट के अनुश्रवण एवं क्रियान्वयन हेतु जनपद स्तर  समिति का गठन किया गया है ,जिसमें जिलाधिकारी अध्यक्ष , मुख्य विकास अधिकारी- उपाध्यक्ष , उप कृषि निदेशक- सचिव,  जिला विकास अधिकारी - सदस्य, समस्त उप जिलाधिकारी -सदस्य ,जिला कृषि अधिकारी -सदस्य नामित है।  प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों का सोशल आडिट 01-05-2022 से 30 जून 2022 तक ग्राम पंचायतवार नामित टीम के द्वारा किया जायेगा , ग्राम पंचायत में सोशल आडिट के समय प्राविधिक सहायक / ए ० टी ० एम ० / बी ० टी ० एम ० , लेखपाल एवं ग्राम विकास अधिकारी / ग्राम पंचायत अधिकारी अभिलेखों सहित अनिवार्य रूप से उपस्थिति सुनिश्चित करेंगे, जनपद के उप कृषि निदेशक द्वारा कृषि विभाग के कार्मिकोंको खण्ड विकास अधिकारियों द्वारा ग्राम पंचायत अधिकारी / ग्राम विकास अधिकारियों को तथा तहसीलदारों के द्वारा लेखपालों की उपस्थिति सुनिश्चित करने हेतु आवश्यक निर्देश अपने स्तर से निर्गत करना सुनिश्चित करेंगे, सोशल आडिट का प्रशिक्षण उप सम्भागवार उप जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा कराया जायेगा । ग्राम पंचायत में सोशल आडिट निम्नलिखित चरणों में पूर्ण किया जायेगा । सोशल आडिट के लिए चरणवार तिथिवार विवरण चरण निर्धारित किया गया है। जिसमें प्रथम चरण 01 मई से 06 मई 2022 तक जिसमें सभा के सार्वजनिक स्थल पर सूची चस्पा करना हैं, द्वितीय चरण  07 मई से 13 मई 2022 तक में  ग्राम ग्राम सभा में लाभार्थियों की सूची पढ़कर सुनाना है,तृतीय चरण -17 मई से 15 जून 2022 तक मे  द्वितीय चरण उपरान्त अपात्र / छूटे हुए पात्र लाभार्थियों की सूची तैयार करना ( प्रारूप 1 एवं 2 ) तैयार की गयी सूचियों पर सभी उपस्थित कार्मिकों के हस्ताक्षर कराये जायेंगे।   चतुर्थ चरण 16 जून 30 जून तक में पात्र लाभार्थियों का पी ० एम ० - किसान पोर्टल पर ओपेन सोर्स पर पंजीकरण हेतु आवश्यक कार्यवाही किया जाना है।  ग्राम सभा में सूची पढकर सुनाते समय ऐसे लाभार्थी जो भूमिहीन हैं अथवा मृतक हो गये हैं अथवा अन्य कारणों से अपात्र हैं , को चिन्हित किया जायेगा । भूमिहीन के प्रकरण में मौके पर उपस्थित लेखपाल सत्यापन करेंगे तथा मृतक लाभार्थियों का मृत्यु प्रमाण पत्र सचिव ग्राम पंचायत द्वारा कृषि विभाग के क्षेत्रीय कर्मचारी को उपलब्ध कराया जायेगा । मृतक लाभार्थी के वारिसान का कृषि भूमि उनके नाम हस्तानान्तरित हो जाने की दशा में पात्रता के आधार पर पूर्व प्रदत्त निर्देशों के अनुसार घोषणा पत्र भरवाते हुए ओपेन सोर्स से पंजीकरण कराया जायेगा ।  सूची में ऐसे परिवार ( पति , पत्नी एवं नाबालिक बच्चे ) जिनमें एक से अधिक व्यक्ति पी 0 एम 0 - किसान निधि का लाभ प्राप्त कर रहे हैं का चिन्हिकरण करते हुए अन्य सदस्यों को स्टॉप पेमेन्ट करने हेतु कार्यवाही की जायेगी । योजना के प्रारम्भ में पोर्टल पर ग्रामों की तहसीलवार मैपिंग में कतिपय त्रुटियों के कारण एक तहसील के ग्राम अन्य " तहसील में प्रदर्शित हो रहे थे . ऐसी स्थिति में कृषि विभाग एवं राजस्व विभाग के अधिकारी आपसी समन्वय से ऐसे ग्रामों का सोशल आडिट वास्तविक तहसील में ही करायेंगे । यह भी सम्भव है कि किसी एक ग्राम की उपलब्ध सूची में से ऐसे कृषक भी हों जो वास्तव में उस ग्राम विकास खण्ड तहसील अथवा जनपद के निवासी न होकर किसी अन्यत्र स्थान के निवासी हैं परन्तु उनकी भूमि उस ग्राम में है । ऐसे कृषकों को आवासीय पते के आधार पर अपात्र न किया जाये अपितु सम्बन्धित ग्राम के भूलेखों के आधार पर इनकी पात्रता की जाँच करते हुए निर्णय लिया जाए ।  जनपद के श्रेणी -2 के अधिकारियों को निरीक्षण एवं अनुश्रवण हेतु विकास खण्डवार नोडल अधिकारी नामित किया गया है।नामित अधिकारी आवंटित विकास खण्डों में निर्धारित पंचाग के अनुसार सोशल आडिट का निरीक्षण करेंगे । सोशल आडिट की कार्यवाही का विवरण  पंजिका तैयार किया जायेगा।

Popular posts
चेहरे पर मुहासे के दाग होने की वजह से 8 जगहों से टूटा रिश्ता हीनभावना से ग्रसित,युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या
चित्र
लगभग 5 करोड़ रुपए की अष्टधातु की मूर्ति के साथ एक आरोपी गिरफ्तार
चित्र
एंटी करप्शन टीम ने रिश्वत लेते बाबू को रंगेहाथ पकड़ा, एरियर निकालने के लिए मांगे थे 14 हज़ार रुपये
चित्र
उत्तर प्रदेश में मुफ्त राशन वितरण व्यवस्था में बदलाव, अब राशनकार्ड धारकों को चावल ज्यादा और गेहूं कम मिलेगा
चित्र
अतिक्रमणकारियों पर होगी सख्त कार्रवाई--- एसडीएम बिंदकी
चित्र