कोरोना की चौथी लहर के मद्देनजर किया गया मॉक ड्रिल

 कोरोना की चौथी लहर के मद्देनजर किया गया मॉक ड्रिल



नकली अभ्यास में मरीज बुलाकर तुरंत शुरू किया गया उपचार


बिंदकी फतेहपुर।कोरोना की चौथी लहर की संभावना को देखते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मॉक ड्रिल यानी नकली अभ्यास किया गया कोरोना से पीड़ित मरीज को लाया गया और उसको एंबुलेंस से उतारकर त्वरित रूप से उसका इलाज प्रारंभ किया गया हालांकि थोड़ी देर यह देखकर लोग अचंभित रहे लेकिन जब उन्हें मालूम है कि यह कोरोना को लेकर नकली अभ्यास है तो लोगों ने राहत महसूस की।सोमवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कोरोना की चौथी वेव को देखते हुए एक मॉक ड्रील किया गया इसे नकली अभ्यास भी कहते हैं एंबुलेंस द्वारा एक मरीज को लाया गया जैसे ही एंबुलेंस तेज रफ्तार से आई सूचना पहले से होने के कारण वहां पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ धर्मेंद्र सिंह बाकी अन्य चिकित्सकों तथा कर्मचारियों के साथ पूरी तरह से अलर्ट थे जैसे ही मरीज आया उसे इस स्ट्रेचर में रखा गया और पल्स रेट ऑक्सीजन लेवल नापा गया और ऑक्सीजन लगाकर उसे तेज रफ्तार से कोरोना के वार्ड में ले जाया गया जहां पर एक बार फिर पल्स रेट ऑक्सीजन लेवल तथा ब्लड प्रेशर देखा गया मरीज का तुरंत उपचार शुरू किया गया और उसे जरूरत की दवा शुरू की गई सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि कोरोना की चौथी वेव को देखते हुए यह मॉक ड्रिल यानी नकली अभ्यास किया गया है ताकि यदि कोई मरीज आता है तो उसे कैसे तुरंत उपचार शुरू किया जाएगा इसको लेकर यह अभ्यास किया गया है इस मौके पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ धर्मेंद्र सिंह के अलावा एसीएमओ डॉ सुरेश कुमार मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर बृजेश कुमार सीएचओ उपेंद्र कुमार अनुपम देवी तिवारी फार्मेसी सतीश कुमार वार्ड बाय मनोज कुमार तथा नन्ही बाजपेई आदि मौजूद रहे।