प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजनान्तर्गत मत्स्य विकास सम्बन्धी विभिन्न उप योजनाओ मे 31 जुलाई तक आनलाईन करें आवेदन

 प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजनान्तर्गत मत्स्य विकास सम्बन्धी विभिन्न  उप योजनाओ मे 31 जुलाई तक आनलाईन करें आवेदन 



फतेहपुर।सहायक निदेशक मत्स्य फतेहपुर जी0सी0 यादव ने बताया कि प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजनान्तर्गत मत्स्य विकास सम्बन्धी विभिन्न  उप योजनाओ मे आनलाईन आवेदन की तिथि 31 जुलाई 2022 तक बढ़ा दी गयी है । मत्स्य विभाग के सहायक निदेशक मत्स्य जी०सी० यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के उप योजनाओं में आनलाईन आवेदन हेतु इच्छुक व्यक्ति सामान्य अन्य पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति व किसी वर्ग की महिला दिनांक 31 जुलाई 2022 तक मत्स्य विभाग के पोर्टल http://fymis.upsdc.gov.in वेबसाईट पर आवश्यक कागजातों के साथ आनलाइन आवेदन कर सकते है । उनके द्वारा बताया कि विभिन्न उप योजनान्तर्गत जैसे- निजी भूमि पर तालाब निर्माण एवं निवेश, लघु रीसर्कुलेटरी एक्वाकल्चर सिस्टम, बैकयार्ड आर०ए० एस० निर्माण, मछली विक्रय हेतु मोटर साइकिल / साइकिल / थ्री व्हीलर विद आइसबाक्स, जिन्दा मछली विक्रय केन्द्र, कियोस्क निर्माण ( एक्वेरियम / सजावटी मछली ) आदि अन्य उपयोजनाओं के अन्तर्गत लाभ प्राप्त करने हेतु मानक अनुसार ग्रामीण / शहरी क्षेत्र में निजी भूमि आवश्यकतानुसार विवाद रहित भूमि एवं ड्राइविंग लाइसेन्स उपलब्ध होना अनिवार्य है । अग्रेतर यह भी अवगत कराया गया कि पात्र इच्छुक व्यक्तियों को परियोजना अनुसार स्वयं की लाभार्थी अंश की धनराशि लगा कर कार्य पूर्ण बाद किसी वर्ग की महिला व अनु0 जाति / जनजाति के लोगो को 60 प्रतिशत एवं सामान्य तथा अन्य पिछड़े वर्ग को 40 प्रतिशत अनुदान राशि लाभार्थी के बैंक खाते में दी जायेगी ।

Popular posts
खेत जा रही देवरानी जेठानी को दबंग परिजनों ने पीटकर किया लहूलुहान
चित्र
ओम घाट में डूबती महिला को पीएसी जवान ने बचाया
चित्र
नगरी निकाय सामान्य निर्वाचन 2022 सहित तैयार कर आने जाने वाली मतदाता सूची के संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न
चित्र
आकाशीय बिजली गिरने से पेट्रोल पंप में हुआ भारी नुकसान
चित्र
नवागंतुक मुख्य विकास अधिकारी ने कार्यभार ग्रहण करने के बाद विकास भवन के कार्यालय में जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय, सहकारिता कार्यालय, आरईएस, जल शक्ति कार्यालय आदि कार्यालयों का किया औचक निरीक्षण
चित्र