स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत कोरोना महामारी की चौथी लहर से बचाव हेतु सुरक्षा एवं जागरूकता शिविर का आयोजन

 स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत कोरोना महामारी की चौथी लहर से बचाव हेतु सुरक्षा एवं जागरूकता शिविर का आयोजन



रिपोर्ट - श्रीकांत श्रीवास्तव 


बांदा - कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय भारत सरकार के द्वारा संचालित जन शिक्षण संस्थान बॉदा ने आज दिनांक- 18 जुलाई 2022 को स्वच्छता पखवाडा के अर्न्तगत स्वच्छता शपथ समारोह एवं कोरोना महामारी की चौथी लहर से बचाव हेतु सुरक्षा एवं जागरूकता शिविर का आयोजन जन संस्थान, परिसर स्वराज कालोनी बॉदा प्रांगण में किया गया जिसके मुख्य अतिथि उपायुक्त जिला उद्योग केन्द्र, प्रतिनिधि डा0 धीरज सिंह, जिला अस्पताल से परामर्शदाता चन्द्रेश गुप्ता वंदना तिवारी व संस्थान के निदेशक मो0 सलीम अख्तर रहे।  

कार्यक्रम के शुभारम्भ में मुख्य अतिथि द्वारा दीपप्रज्जवलन व मॉ सरस्वती की पुष्प अर्पित करते हुये किया गया। संस्थान के निदेशक मो. सलीम अख्तर द्वारा उपस्थित अतिथियों एवं प्रतिभागियों का आभार प्रकट किया और कहा गया कि हम सभी को अपने आसपास के वातावरण को साफ एवं स्वच्छ रखने के लिये जीवन शैली में बदलाव लाने की आवश्यकता है जिससे की समाज मे परिवर्तन आये और स्वच्छता लायें और बताया गया कि कोरोना वायरस कई प्रकार के वायरस का समूह एक समूह है जो मनुष्यों एवं पक्षियों में रोग उत्पन्न करता है जिनके कारण मानव में स्वासतन्त्र संक्रमित हो जाता है परिणाम स्वरूप सर्दी, जुकाम से लेकर मृत्यु तक हो जाती है। संस्थान के कार्यक्रम अधिकारी सौम्य खरे द्वारा उपस्थित प्रतिभागियों को स्वच्छता शपथ दिलाकर स्वच्छता पखवाडा का शुभारम्भ किया गया और कहा गया कि स्वच्छता की शुरूआत सबसे पहले अपने घर से प्रारम्भ करके दूसरो को प्रेरित किया जा सकता है यह स्वच्छता का सकारात्मक रूप होगा। पहले हम संकल्प करें अपने घर को एवं स्वंय को स्वच्छ करें तथा कोरोना महामारी के तीसरी लहर से बचाव हेतु उनके द्वारा कहा गया कि सबसे पहले हम मास्क का नियमित उपयोग करे एवं 02 गज की दूरी एक दूसरे से बनाकर रखे तभी इस कोरोना से निजात पाया जा सकता है। जिला उद्योग केन्द्र से डा0 धीरज सिंह ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि सुचिता एवं स्वच्छता में अन्तर है सुचिता का अर्थ है कि मन के अन्दर की स्वच्छता एवं स्वच्छता का अर्थ अपने आस पास की गन्दगी को दूर करना है। जिला अस्पताल से परामर्शदाता  चन्द्रेश गुप्ता  द्वारा बताया गया कि कोरोना महामारी से बचने के लिये हमें स्वच्छता का विशेष ध्यान में रखतें हुये अपने हाथों को कम से कम 40 सेकेन्ड तक साबुन से धुलना एवं एक दूसरे से दो गज की दूरी बनाये रखना है घर से बाहर निकलने पर मास्क पहनना बहुत जरूरी है। जिला अस्पताल से ही वंदना तिवारी द्वारा कोरोना के चौथी लहर से सुरक्षा एवं बचाव का विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की गयी। लेखाकार लक्ष्मीकान्त दीक्षित ने स्वच्छता शपथ कार्यक्रम के दौरान बताया कि घर की सफाई के साथ साथ आसपास की सफाई करके कूडे को कूडेदान में डालना चाहिये। संस्थान के कार्यक्रम अधिकारी संजय कुमार पाण्डेय द्वारा कार्यक्रम के अन्त में सभी का आभार व्यक्त करते हुये कार्यक्रम के समापन की घोषणा की गयी।

Popular posts
प्रेम प्रसंग के चलते हुई हत्या परिजनों ने जताई आसंका
चित्र
आकांक्षा साहू का इलाहाबाद उच्च न्यायालय अपर समीक्षा अधिकारी ए.आर.ओ. के पद पर हुआ चयन
चित्र
राजस्थान प्रदेश के जनपद जालौर में मासूम दलित छात्र की हत्या के संबंध में भीम आर्मी मंडल अध्यक्ष ने जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन
चित्र
मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में जन सुविधा केंद्र के संचालन हेतु मुद्रा लोन दिए जाने के संबंध में उचित दर विक्रेताओं के साथ बैठक संपन्न
चित्र
बेखौफ बदमाशों ने ई-कार्ड कोरियर आफिस में तमंचे के बल पर लूटे 18 लाख 81 हजार
चित्र