पीकर गाड़ी चलाई खुद के साथ औरों की जान गवाई... ज्योति बाबा

 पीकर गाड़ी चलाई खुद के साथ औरों की जान गवाई... ज्योति बाबा 



जब तक नशे में गाड़ी चलाओगे तब तक यूं ही जान गवाओगे...ज्योति बाबा 


नशा कर गाड़ी को ना दे उड़ान नहीं तो कट जाएगा मौत का चालान...ज्योति बाबा 


नशे का करो अपमान सड़क दुर्घटनाओं में ना गवाओ बहुमूल्य जान...ज्योति बाबा 


नशे में गाड़ी ना चलाएं अपना कीमती जीवन बचाएं...ज्योति बाबा 


कानपुर। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक दुनिया भर में हर साल तीन लाख से ज्यादा लोगों की जान सड़क दुर्घटनाओं में चली जाती है हादसों में 2 से 5 करोड़ तक लोग घायल हो जाते हैं जिनमें से कई को आजीवन अपंगता का सामना करना पड़ता है 5 से 29 साल के बच्चों की असमय मौत का कारण सड़क दुर्घटनाएं ही हैं इसी संकट को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र ने 2030 तक सड़क दुर्घटनाओं को आधा करने का लक्ष्य रखा है जबकि होने वाली कुल दुर्घटनाओं का 60 फ़ीसदी ड्रंक एंड ड्राइव विद् रैस ड्राइविंग के कारण होता है उपरोक्त बात नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल के तहत सोसायटी योग ज्योति इंडिया व सोशल ऑडिट उत्तर प्रदेश के संयुक्त तत्वाधान में कोरोना गाइडलाइंस के तहत आयोजित संगोष्ठी शीर्षक पीकर गाड़ी चलाना मतलब मौत का चालान कटाना पर अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल के नेशनल ब्रांड एंबेसडर योग गुरु ज्योति बाबा ने कही,ज्योति बाबा ने आगे कहा कि नशे के सेवन में गाड़ी चलाना दुर्घटना होने और उसमें जान गवाने के खतरे को बढ़ा देता है शरीर में शराब की मात्रा बढ़ने के साथ खतरा भी कई गुना बढ़ता जाता है और ड्रग्स के सेवन से तो खतरा 100 गुना बढ़ जाता है इसीलिए नशे का सेवन कर गाड़ी चलाने वालों पर रोड सेफ्टी नियमों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करना पैदल चलने वालों के हित में भी होगा। देवरिया के सोशल ऑडिट से जुड़े कुंदन सैनी ने कहा कि देश में सबसे ज्यादा सड़क हादसे इसलिए होते हैं क्योंकि यहां यातायात नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है प्रदेश उपाध्यक्ष अंजू सिंह व मानवाधिकार वादी गीता पाल ने कहा कि दुनिया के कुल वाहनों में 1 फ़ीसदी हिस्सेदारी के बावजूद 10 फीसदी दुर्घटनाएं होती हैं लखनऊ की सोशल ऑडिट से प्रीती सैनी ने कहा कि एनसीआरबी के मुताबिक 2021 में सड़क हादसों में भारत में डेढ़ लाख से ज्यादा मौतें हुई हैं बुलंदशहर की गीता रानी व सिद्धार्थनगर की प्रेम शीला ने कहा कि दुनिया भर में सड़क हादसों में 2 से ज्यादा लोग हर मिनट जान गवा देते हैं अंबेडकर नगर की रंजना कुमारी कानपुर देहात की बबीता श्रीवास्तव इटावा की शिल्पी सक्सेना ने कहा कि जब तक नशा करके सड़कों पर लोग गाड़ी चलाते रहेंगे तब तक यूं ही लोग जान गवाते रहेंगे,गोरखपुर से डॉक्टर परमात्मा गुप्ता व अश्विनी कुमार ने कहा कि नशे का सेवन कर गाड़ी चलाना मतलब अपने साथ औरों की कीमती जान गवाने के समान है अन्य प्रमुख सोशल ऑडिट नशा मुक्त सेनानी जिनमें बनारस के सुनील कुमार बिंद बलिया के संतोष तिवारी सीतापुर के सुनील गुप्ता बस्ती के माया राम जी संत कबीर नगर के राम विजय गाजीपुर के प्रदीप कुमार कुशीनगर के संजय गुप्ता प्रयागराज के मुनीश कुमार मैनपुरी के अमित कुमार उन्नाव के विकास सिंह हरदोई के विनय कुमार इत्यादि सभी ने नशे का सेवन कर गाड़ी चलाने वालों पर शासन से नियमों के अनुपालन में कड़ी कार्यवाही की मांग की है अंत में सभी को योग गुरु ज्योति बाबा ने सेफ ड्राइविंग कर स्वयं के साथ औरों को बचाने हेतु नशे से दूर रहने का संकल्प भी कराया।

टिप्पणियाँ
Popular posts
तेज रफ्तार रोडवेज बस अनियंत्रित होकर खाई मे जा पलटी
चित्र
हुसैनगंज थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम ने मिलकर चोरी की 10 मोटरसाइकिल के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
चित्र
मानसिक विक्षिप्त लड़की के साथ अस्पताल के कर्मचारी ने किया दुष्कर्म का प्रयास
चित्र
जिलाधिकारी ने 20 से 25 फीसदी से कम दर पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराने के लिए निर्देश
चित्र
प्रदेश कमाने गए पति की गैरमौजूदगी में महिला के साथ पड़ोसियों ने किया बदसलूकी
चित्र