ऑनलाइन ठगी के शिकार तीन पीड़ितों के कुल 01 लाख 56 हजार 332 रूपये साइबर क्राइम सेल फतेहपुर द्वारा पीड़ितों के बैंक खाते में कराया गया वापस

 ऑनलाइन ठगी के शिकार तीन पीड़ितों के कुल 01 लाख 56 हजार 332 रूपये साइबर क्राइम सेल फतेहपुर द्वारा पीड़ितों के बैंक खाते में कराया गया वापस



फतेहपुर।वर्तमान में बढ़ते साइबर अपराध को रोकने व आमजमानस को इससे राहत दिलाने के उद्देश्य के तहत चलाये जा रहे अभियान के तहत पुलिस अधीक्षक के कुशल निर्देशन व अपर पुलिस अधीक्षक के पर्यवेक्षण में साइबर क्राइम सेल के द्वारा साइबर अपराध के शिकार कुल तीन पीड़ितो के खातों में कुल 01 लाख 56 हजार 332 रूपये अथक परिश्रम व प्रयास के बाद उनके खातों में वापस कराये गये ।

दिनांक 07.09.2022 को आवेदक आनन्दपाल पुत्र सहादवे निवासी ग्राम लतीफपुर थाना थरियांव जनपद को आनलाइन ठगी करने वाले अपराधियो के द्वारा बैंक के हेड शाखा का अधिकारी बताकर उनके इंडियन बैंक खाते की जानकारी प्राप्त करके 59876/- रूपये की धनराशि निकाल ली जिसके सम्बन्ध में आवेदक द्वारा तत्काल पुलिस अधीक्षक  के समक्ष एक प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया था । पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए खाते का स्टेटमेंट प्राप्त कर कार्यवाही करते हुये फोनपैसा, फोन पे व इंडियन बैंक के अधिकारियों से पत्राचार करते हुये आनलाइन ठगी किए पूरे 59876/- रूपये आवेदक उपरोक्त के बैंक खाते में वापस कराये गये। 

दिनांक 25.02.2022 को आवेदिका श्वेता बाजपेयी पुत्री रमाकान्त बाजपेयी निवासी कलेक्टरगंज थाना कोतवाली फतेहपुर द्वारा अपने भाई के साथ पुलिस कार्यालय में उपस्तिथ होकर शिकायत की गई कि अज्ञात व्यक्ति द्वारा कस्टमर केयर बनकर उनके एसबीआई व पीएनबी बैंक खाते से कुल एक लाख उनचास हजार आठ सौ चौहत्तर रूपये निकाल लिये गये । इसकी जानकारी होने पर तत्काल साइबर क्राइम सेल फतेहपुर में अपनी शिकायत दर्ज करायी थी । साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल  एसबीआई, पीएनबी, पेयू, पेटीएम, एफवाईपी मनी व कोटक महिन्द्रा बैंक के नोडल अधिकारियो को पत्राचार कर जानकारी प्राप्त की थी तथा आवेदिका की पचास हजार रूपये से अधिक धनराशि कोटक महिन्द्रा बैंक के खाते में फ्रीज कराई गयी एवं इस प्रकरण के सम्बन्ध में थाना कोतवाली फतेहपुर में अभियोग पंजीकृत कराकर करीब आठ महीने के उपरान्त मा0 न्यायालय से आदेश प्राप्त कर कोटक महिन्द्रा बैंक से 49999/- रूपये व एफवाईपी मनी वॉलेट से 4457/- रूपये (कुल 54456/- रूपये) वापस कराया गया ।

दिनांक 06.09.2022 को आवेदक जौवाद अहमद पुत्र गफूर अहमद निवासी मोहल्ला सानी गढवा कोड़ा थाना जहानाबाद द्वारा शिकायत की गयी कि कानपुर जाते समय उनका मोबाइल फोन खोने के पश्चात उनके सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया खाते से 42243/- रूपये की धनराशि अज्ञात व्यक्ति द्वारा फोनपे के माध्यम से ट्रांसफर कर लिया गया । इसकी जानकारी होने पर तत्काल साइबर क्राइम सेल फतेहपुर में अपनी शिकायत दर्ज करायी थी । साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल फोनपे से जानकारी प्राप्त कर एसबीआई बैंक से लाभार्थी खाते का विवरण माँगते हुए को पत्राचार किया गया तथा आवेदक के सम्पूर्ण धनराशि 42000/- रूपये  आवेदक के खाते में वापस करायी गयी ।सभी आवेदकों द्वारा कार्यालय साईबर क्राइम सेल में आकर पुलिस अधीक्षक एवं साईबर क्राइम सेल के कर्मचारियों का आभार व्यक्त करते हुए कृत कार्यवाही की भूरि-भूरि प्रशंसा की गयी तथा आभार प्रकट किया गया।

 साईबर क्राइम सेल टीम मे 

 उ0नि0 अरविन्द कुमार मौर्य प्रभारी साइबर सेल का0 प्रवीन सिंह साइबर का0 नीरज कुमार का0 शुभेन्दु रंजन आदि मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
हुसैनगंज थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम ने मिलकर चोरी की 10 मोटरसाइकिल के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
चित्र
राजस्व टीम ने ग्राम सभा की नवीन परती जमीन को कब्जेदारों से कराया मुक्त
चित्र
जिलाधिकारी दीपा रंजन ने विकास खण्ड बिसण्डा के सभागार में ग्राम प्रधानों के साथ की समीक्षा बैठक
चित्र
तेज रफ्तार रोडवेज बस अनियंत्रित होकर खाई मे जा पलटी
चित्र
चोरी की पांच मोटर साइकिलों समेत पांच गिरफ्तार
चित्र