प्रधानमंत्री आवास के नाम पर 20 हजार रू की मांग, पीड़ित ने लगाई जिलाधिकारी से गुहार

 प्रधानमंत्री आवास के नाम पर 20 हजार रू की मांग, पीड़ित ने लगाई जिलाधिकारी से गुहार 



बांदा - केंद्र सरकार एवं उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा गरीब एवं असहाय लोगों के लिए आवास एवं शौचालय निर्माण करवाए जाने की योजनाएं चलाई जा रही है । लेकिन कुछ ग्राम प्रधान व सचिव इसका फायदा उठाकर के गरीबों को लूटने का काम किया जा रहा है । अगर लोग पैसा देने में असमर्थ होते हैं तो उनके आवास कैंसिल कर दिए जाते हैं।

आपको बता दें एक मामला सामने आया है जिसमें प्रधानमंत्री आवास के नाम पर ₹20 हजार रू मांगे गए थे। पैसा ना देने पर पीड़ितो का आवास दूसरे के नाम कर देने का आरोप लगाया गया है। कमलिया पत्नी भूरा सुमित्रा पत्नी कल्लू सिया सखी पत्नी शिव विलास ग्राम भदावल विकासखंड बिसंडा तहसील अतर्रा जिला बांदा के निवासी हैं जिन्होंने आज जिलाधिकारी बांदा को शिकायती पत्र देते हुए बताया कि ग्राम प्रधान व ग्राम सचिव के द्वारा आवास के नाम पर ₹20000 मांगे जा रहे हैं। ना देने पर आवास दूसरे को दे दिया गया। जिसकी शिकायत जिलाधिकारी से की है पीड़ितों ने मांग की है कि उक्त मामले की जांच कराकर के पीड़ितों का हक उनको दिलाया जाए।

टिप्पणियाँ
Popular posts
तेज रफ्तार रोडवेज बस अनियंत्रित होकर खाई मे जा पलटी
चित्र
हुसैनगंज थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम ने मिलकर चोरी की 10 मोटरसाइकिल के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
चित्र
मानसिक विक्षिप्त लड़की के साथ अस्पताल के कर्मचारी ने किया दुष्कर्म का प्रयास
चित्र
जिलाधिकारी ने 20 से 25 फीसदी से कम दर पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराने के लिए निर्देश
चित्र
प्रदेश कमाने गए पति की गैरमौजूदगी में महिला के साथ पड़ोसियों ने किया बदसलूकी
चित्र