आजकल स्वार्थवस होती है मित्रता:प्रमोदकृष्ण

 आजकल स्वार्थवस होती है मित्रता:प्रमोदकृष्ण



बिंदकी फतेहपुर।नगर के बैलाही बाजार स्थित मूला देवी पार्क मे चल रही श्रीमदभागवत कथा का पूर्णाहुति व भंडारे के साथ समापन हो गया।कथा के सातवे दिवस उदासीन आश्रम वृंदावन से आये सुमधुर राष्ट्रीय कथा व्यास प्रमोदकृष्ण दास जी महाराज ने सुदामा और कृष्ण मित्रता का प्रेरक प्रसँग सुनाया।उन्होंने कहा मित्रता माँ बाप के बाद ऐसा रिश्ता है जो सबसे विश्वनीय होता है।मित्रता मे कभी चालाकी और धोखेबाजी नही होनी चाहिए।आजकल लोग स्वार्थवस मित्रता करते है और काम निकल जाने के बाद बुराई मे उतर आते है।ऐसे लोगो से बचना चाहिए।बताया सुदामा और कृष्ण की मित्रता हम सभी के लिए संदेश है की मित्र मित्र के काम आना चाहिए।देर रात्रि तक चली कथा मे फूलों की होली खेली गई।रविवार सुबह पूर्णाहुति के साथ दोपहर बाद भंडारा शुरू हुआ जो देर रात्रि तक चलता रहा।आयोजक सुरेश गुप्ता,नमित गुप्ता,रामेश्वर दयालु गुप्ता,समाजसेवी लक्ष्मीचंद्र मोना ओमर,संजय ओमर,अंशुल गुप्ता,आलोक गौड़,शिवशंकर सिंह,राघव ओमर,अनमोल ओमर,अनुपम ओमर आदि रहे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
हुसैनगंज थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम ने मिलकर चोरी की 10 मोटरसाइकिल के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
चित्र
राजस्व टीम ने ग्राम सभा की नवीन परती जमीन को कब्जेदारों से कराया मुक्त
चित्र
जिलाधिकारी दीपा रंजन ने विकास खण्ड बिसण्डा के सभागार में ग्राम प्रधानों के साथ की समीक्षा बैठक
चित्र
तेज रफ्तार रोडवेज बस अनियंत्रित होकर खाई मे जा पलटी
चित्र
चोरी की पांच मोटर साइकिलों समेत पांच गिरफ्तार
चित्र