कूड़े के ढेर में भोजन तलाशते गोवंश, दूसरी तरफ मुख्यमंत्री के आगमन पर तैयारियों में जुटा जिला प्रशासन

 कूड़े के ढेर में भोजन तलाशते गोवंश, दूसरी तरफ मुख्यमंत्री के आगमन पर तैयारियों में जुटा जिला प्रशासन



श्रीकांत श्रीवास्तव ब्यूरो बाँदा



बाँदा -  एक तरफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन की तैयारी चल रही है वहीं दूसरी तरफ बांदा नगर में कूड़े के ढेर पर गोवंश कूड़ा कचरा खा रहे हैं। आपको बता दे कि बांदा शहर में स्थित पद्माकर चौराहा के बगल से कूड़े के ढेर पर गोवंश कूड़ा कचरा खाकर अपना पेट पाल रहे हैं। वही आज गौ रक्षा समिति के नगर अध्यक्ष कुलदीप नामदेव के द्वारा बताया गया कि पदमाकर चौराहा स्थित कूड़े के ढेर पर लगभग एक दर्जन गोवंश पॉलिथीन खाते हुए मिले। आपको बता दे कि 17 फरवरी शुक्रवार को एक तरफ माननीय मुख्यमंत्री के बांदा आगमन पर सभी अधिकारी एक तरफ व्यवस्थाओं में लगे पड़े हैं। लेकिन उनकी प्राथमिकताओं में से एक गोवंश की रक्षा और सुरक्षा के मद्देनजर किसी का ध्यान नहीं जा रहा है। वहीं बताया गया कि ऐसे ही पूरे शहर में कूड़े के ढेरों पर गोवंश पॉलिथीन व कूड़ा करकट खाते हुए मिले। विश्व हिंदू महासंघ गौ रक्षा समिति के जिलाध्यक्ष महेश कुमार प्रजापति ने बताया कि जिले के सभी अधिकारी इस समय मुख्यमंत्री के आगमन की तैयारी में लगे हुए हैं लेकिन दूसरी तरफ शहर में अन्ना गोवंश पॉलिथीन खाकर बीमार हो जाते हैं और इलाज कराते कराते मृत्यु हो जाती है। आगे बताया गया कि कई बार पॉलिथीन बंद कराने का अभियान प्रशासन के द्वारा चलाया गया लेकिन शहर में खुलेआम पॉलीथिन का प्रयोग किया जा रहा है। 

जिससे पर्यावरण भी प्रदूषित हो रहा है और गोवंश को भी क्षति हो रही है। मुख्यमंत्री से विश्व हिंदू महासंघ गौ रक्षा समिति मांग करती है की जिले में स्थाई व अस्थाई गौशालाओं में अव्यवस्थाओं का अंबार लगा हुआ है जो कि लगातार गोवंश भूख के अभाव में दम तोड़ रहे हैं और इन सभी गौशालाओं की जांच करवा कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करें।

टिप्पणियाँ