ग्राम पंचायत भरसा पहुंचकर मनरेगा श्रमिकों के साथ जिला अधिकारी ने नदी में फावड़ा से खुदाई कर किया श्रमदान

 ग्राम पंचायत भरसा पहुंचकर मनरेगा श्रमिकों के साथ जिला अधिकारी ने नदी में फावड़ा से खुदाई कर किया श्रमदान



फतेहपुर।जनपद के तहसील बिन्दकी के विकास खंड अमौली से यमुना नदी की सहायक नदी के रूप में बहने वाली नोन नदी जनपद में लगभग 23 किमी(08-12 मी0 चौड़ाई) तक बहती है, जिसमे 09 ग्राम पंचायतों(भरसा, मानेपुर, कहिंजरा, सरहन बुजुर्ग, सहरन खुर्द, सिकन्दरपुर, औरा-मिस्सी, गौरी -औरा, चाँदपुर) से होकर यमुना नदी में मिलती  है । नदी के पुनोरुद्धार का कार्य  मनरेगा श्रमिकों, जन सहभागिता व विभागों के सहयोग से खुदाई/सिल्ट सफाई का कार्य किया जा रहा है। नदी में पड़ने वाले चैक डेमो(11), ड्रेनो का  मरम्मत/सफाई करके ड्रेन/चेक डैमो का वास्तविक रूप दिया जा रहा है।  नदी को वास्तविक रूप  प्रदान करने के पुनीत कार्य को आगे  बढाने के दृष्टिगत जिलाधिकारी श्रीमती श्रुति ने ग्राम पंचायत भरसा पहुंच कर मनरेगा श्रमिकों, जनसामान्य के  साथ नदी में फावड़ा से खुदाई करके श्रमदान किया। नदी के पास स्थिति ग्राम पंचायत भरसा (केवटरा) के ग्राम सचिवालय परिसर में पौध रोपण किया। जिलाधिकारी को खण्ड विकास अधिकारी, खण्ड शिक्षा अधिकारी अमौली व क्षेत्रीय नागरिको ने अंगवस्त्रम, स्मृति चिन्ह देकर  स्वागत/सम्मानित किया।  

जिलाधिकारी ने नोन नदी को  वास्तविक रूप देने के लिए सकरात्मक सहयोग करते हुए मनरेगा श्रमिकों, जनसामान्य, स्वयं सेवी संस्थाओं, सरकारी विभागों आदि को  शुभकामनाएं  देते हुए उत्साहवर्धन भी किया।  उन्होंने कहा कि रूटीन के कार्य से हटकर मानवता का कार्य करने में संतोष मिलता है।  विकास खंड अमौली को डार्क जोन से  बाहर  लाना हम सब का कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि हम सब मिलकर  बड़ी से बड़ी कठिनाईयो को आसानी से हल कर सकते है। यदि नदी  23.5 किमी की जगह 100 किमी भी होती तो हम आप लोग आपसी सहयोग से आसानी से कार्य को पूरा किया जा सकता। जनपद में  वर्षा के पानी को संचयन करने व भूमिगत जल स्तर बढ़ाने के लिए अमृत सरोवरो में खुदाई कार्य चल रहा है, जो वर्षा से पहले पूरा कर लिया जाएगा।  उन्होंने कहा कि नदी को वास्तविक रूप मिलने से खेतो की सिंचाई/पशु-पक्षियों हेतु पानी एवं जल संरक्षण से भूमिगत जल स्तर बढ़ेगा, जिससे कि नदी के किनारे के नागरिको के लिए लाभदायक होगा।  जल संरक्षण के बारे में  नागरिको को जागरूक किया जाय । उन्होंने कहा की जनपद में कुल 23.5 किमी में से 18 किमी नदी के पुनरोद्वार का कार्य हो चुका है शेष 5.5 किमी का कार्य वर्षा पूर्व पूर्ण कर लिया जाएगा। नोन नदी को वास्तविक रुप देने के लिए प्रिन्ट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का सहयोग सराहनीय है के लिए शुभकामनाएं देते हुए आभार व्यक्त किया।

उप जिलाधिकारी बिन्दकी श्रीमती अंजू वर्मा ने  कहा कि नदी के पुनोरुद्धार  के कार्य मे बढ़-चढ़ कर सकारात्मक सहयोग  करने वाले सभी लोग बधाई के पात्र है। उन्होंने कहा कि सभी के प्रयास से शेष बचे नदी के पुनोरुद्धार का कार्य जल्द ही पूर्ण कर लिया जाएगा।

इस अवसर पर अधिशाषी अभियंता सिंचाई श्री नन्द गुप्ता, डीसी मनरेगा अशोक कुमार , खण्ड विकास अधिकारी अमौली, खण्ड शिक्षा अधिकारी, ग्राम प्रधान, जनप्रतिनिधिगण, भारी संख्या में जन सामान्य मौजूद रहें।

टिप्पणियाँ
Popular posts
डीएम एसपी ने संयुक्त रूप से जिला कारागार का किया निरीक्षण
चित्र
अभिषेक श्रीवास्तव ने कायस्थ समाज सहित बांदा जिले का नाम किया रोशन
चित्र
गोष्ठी के माध्यम से संचारी रोग नियंत्रण अभियान पर दिया जोर
चित्र
सत्य सनातन धर्म जागरण हेतु आचार्यकुलम द्वारा सामूहिक उपनयन संस्कार कार्यक्रम का किया गया आयोजन
चित्र
आगामी मोहर्रम पर्व को लेकर पुलिस अधीक्षक की अध्यक्षता में सर्व समुदाय के धर्मगुरुओं व संभ्रांत नागरिकों के साथ पीस कमेटी की बैठक संपन्न
चित्र