विशेष संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान की द्वितीय बैठक जिला अधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न
विशेष संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान की द्वितीय बैठक जिला अधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न

फतेहपुर।विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान(01 अप्रैल से 30 अप्रैल, 2024 तक) एवं दस्तक अभियान(10 अप्रैल से 30 अप्रैल 2024 तक) की द्वितीय बैठक जिलाधिकारी श्रीमती सी. इंदुमती की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट महात्मा गांधी सभागार में जनपद स्तरीय अन्तर्विभागीय समीक्षा बैठक संपन्न हुई। 
बैठक में जिलाधिकारी महोदया ने कहा कि विशेष संचारी रोग नियन्त्रण अभियान एवं दस्तक अभियान में चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, बाल विकास, ग्राम्य विकास एवं पंचायती राज, शिक्षा, नगर निगम, कृषि विभाग, पशुपालन विभाग, दिव्यांग कल्याण, चिकित्सा शिक्षा को जो दायित्व सौंपे गए है आपस में समन्वय बनाते हुए टीम भावना के साथ अभियान को सफल बनाए। साथ ही किये गए कार्यो का सूचना विभाग के माध्यम से प्रचार-प्रसार भी कराये। अभियान का जो मैक्रोप्लान बना हैं, के अनुसार कार्य किया जाय। उपजिलाधिकारी तहसील स्तरीय अधिकारियों /कर्मचारियों के साथ बैठक कर उनके दायित्वों के बारे में विस्तृत जानकारी दे एवं सम्बंधित एम0वाई0सी0 कार्य मे निगरानी रखते हुए रिपोर्ट से अवगत कराएं  । उन्होंने विभागीय अधिकारियों को संचारी रोगों से बचाव एवं नियंत्रण के संबंध में विशेष अभियान चलाते हुए सभी कार्यों को पूर्ण करने एवं आम जनमानस को संचारी रोगों से बचाव/रोकथाम के बारे में जागरूक करने के निर्देश दिए।  अधिशासी अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायतों को नगरीय क्षेत्र व जिला पंचायतराज अधिकारी को समस्त ग्राम पंचायतों में नियमित रूप से साफ सफाई कराने, नालियों एवं रिक्त स्थानों पर जलभराव की समस्या की स्थिति का समाधान कराने के निर्देश दिए। शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में झाड़ियों को कटवाते हुए फागिंग कराने एवं एंटीलार्वा का छिड़काव कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थानों विद्यालयों, पंचायत परिसर में  मच्छर विकर्षी पौधों (लेमन ग्रास,सिट्रोनेला ग्रास, तुलसी आदि को रोपित किया जाय। उन्होंने जागरूकता संबंधी पम्पलेट को सरकारी भवनों यथा प्राथमिक विद्यालयों, उच्च प्राथमिक विद्यालयों, पंचायत भवनों, सामुदायिक शौचालयों तथा हैल्थ एण्ड वेलनेस केन्द्रों पर चस्पा करने के निर्देश दिए। समस्त विभागों को संचारी एवं दस्तक अभियान के दौरान कृत कार्यवाही से समय-समय पर अवगत कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आशा, आंगनबाड़ी घर-घर जाकर 15 वर्ष से कम आयु के बच्चों अथवा क्षय रोग के लक्षण वाले व्यक्ति पाए जाय तो उनके घर के प्रमुख जगह पर स्टीकर लगाए साथ ही चिकित्सा परामर्श दे और बुखार के रोगियों की सूची, आई0एल0आई0(इन्फ्लूएंजा लाईक इलनेस)रोगियों की सूची, क्षय रोग के लक्षणयुक्त रोगियों की सूची, कुष्ठ रोग, फलेरिया रोग एवं कालाजार रोग के लक्षणयुक्त रोगियों की सूची बना ले साथ ही नागरिको से संचारी रोगों के नियंत्रण, की जानकारी भी साझा करें।
प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि संचारी/संक्रामक रोग ऐसे रोग है जो एक रोगग्रस्त व्यक्ति से दूसरे स्वास्थ्य व्यक्ति में दूषित भोजन, जल के प्रयोग से तथा कीटों, जानवरों आदि के सम्पर्क में आने से फैलते है। ये विभिन्न रोगजनित कारकों जैसे-प्रोटोजोआ, कवक,जीवाणु, विषाणु इत्यदि होते हैं।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी  पवन कुमार मीना, उपजिलाधिकारी सदर, बिन्दकी, खागा, प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 इस्तियाक अहमद, सीएमएस पुरुष, जिला मलेरिया अधिकारी डा0 सुजाता ठाकुर, जिला विद्यालय निरीक्षक शिवपूजन द्विवेदी, जिला कार्यक्रम अधिकारी साहब सिंह यादव, नगर पालिका ईओ सदर, खण्ड विकास अधिकारी सहित सम्बंधित उपस्थित रहे।
टिप्पणियाँ
Popular posts
कार ने हाइवे पार कर रही महिलाओं को कुचला, चार की मौत
चित्र
चुनाव ड्यूटी में आये हरदोई का रहने वाला होमगार्ड की बिगड़ी तबियत डॉक्टर ने किया मृत घोषित
चित्र
स्ट्रांग रूम में रखे ईवीएम मशीन के सुरक्षा व्यवस्था का एसपी ने लिया जायजा
चित्र
बडौरी टोल प्लाजा में अधिवक्ता के साथ हुई लूट के साथ गुंडई करते हुए जान से मारने की धमकी दी
चित्र
विश्वकर्मा समाज से सपा गठबंधन के पक्ष मांगे वोट-रामासरे विश्वकर्मा
चित्र