मतदान कार्मिकों को ट्रेनरों द्वारा प्रोजेक्टर के माध्यम से दिए जा रहे प्रशिक्षण का जिला निर्वाचन अधिकारी ने किया निरीक्षण

 मतदान कार्मिकों को  ट्रेनरों  द्वारा प्रोजेक्टर के माध्यम से दिए जा रहे प्रशिक्षण का जिला निर्वाचन अधिकारी ने किया निरीक्षण




फतेहपुर।लोकसभा सामान्य निर्वाचन–2024 को सकुशल, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण ढंग से एवं पारदर्शिता से सम्पन्न कराने हेतु भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशानुसार ठा0 युगराज सिंह महाविद्यालय में  मतदान  कार्मिकों  का द्वितीय प्रशिक्षण दो पालियों में दिया गया। (प्रथम पाली प्रातः 10 बजे से अपराह्न 01 बजे, द्वितीय पाली अपराह्न 02 बजे से 05 बजे तक) संपन्न हुई। जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी  श्रीमती सी. इंदुमती ने मतदान कार्मिकों को मास्टर ट्रेनरों द्वारा प्रोजेक्टर के माध्यम से दिए जा रहे प्रशिक्षण का निरीक्षण किया। उन्होंने प्रशिक्षार्थियों से ईवीएम (वीवी पैट, बैलेट यूनिट, कंट्रोल यूनिट) के परिचालन, माकपोल शुरू होने, माकपोल के पश्चात, वास्तविक मतदान प्रक्रिया आदि को भली प्रकार से समझ ले और भारत निर्वाचन आयोग की गाइड लाइन का अध्ययन अवश्य कर ले ताकि मतदान अच्छे से संचालित किया जा सके। उन्होंने मतदान कार्मिकों से प्रश्न पूछते हुए जानकारी का परीक्षण भी किया जैसे–माकपोल कैसे करेंगे ?, स्याही  कहा व कैसे लगायेगे,मतदान समाप्ति पर क्या–क्या करेंगे ? आदि प्रश्नो के उत्तर मतदान कार्मिकों ने सही दिए। प्रशिक्षण की परीक्षा होगी, जिसमे सफल होने पर ही प्रशिक्षण पूर्ण माना जायेगा। पीठासीन अधिकारी मतदान के दिन प्रयोग होने वाली निर्वाचन सामग्री प्राप्त कर ले और सूची के अनुसार मिलन भी कर ले। निर्वाचन कार्य मे लगें मतदान कार्मिकों हेतु बनाये गए फैसिलिटेशन सेन्टर (सुविधा केंद्र) पोस्टल बैलेट/ निर्वाचन कर्तव्य प्रमाण पत्र (EDC) को देखा। 

मास्टर ट्रेनरो द्वारा बताया गया कि मतदान प्रारंभ होने के पूर्व भारत निर्वाचन आयोग के नियत समय 90 मिनट पूर्व माकपोल कराने की प्रक्रिया शुरू करना है, माकपोल की प्रक्रिया समाप्त होने के बाद कंट्रोल यूनिट को क्लीयर अवश्य किया जाय तथा वीवी पैट के ड्रॉप बॉक्स में गिरी माकपोल की पर्ची को निकालकर पीछे मोहर लगाकर काले लिफाफे में रखकर सील किया जाय। मास्टर ट्रेनर द्वारा वीवी पैट, बैलेट यूनिट, कंट्रोल यूनिट को जोड़ने एवं सील करने की प्रक्रिया को विस्तार से बताया गया साथ ही चैलेंज वोट, टेंडर वोट, पीठासीन डायरी, मतदान अभिकर्ता के फार्म, मत पत्र लेखा, मतदाता रजिस्टर आदि पर भी विस्तार से चर्चा किया। 

 जिला विकास अधिकारी ने बताया कि प्रथम एवं द्वितीय पाली में 2400  कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया गया, जिसमे प्रथम पाली में 11 एवं द्वितीय पाली में 27 कार्मिक अनुपस्थित रहे, अनुपस्थित कार्मिकों का  एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश संबंधितो को दिए। साथ ही कहा कि अनुपस्थित कार्मिक आगामी  प्रशिक्षण में उपस्थित नहीं होते है तो संबंधित के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

इस अवसर पर  प्रभारी अधिकारी कार्मिक/मुख्य विकास अधिकारी  पवन कुमार मीना,परियोजना निदेशक डीआरडीए शेषमणि सिंह,जिला पंचायत राज अधिकारी  उपेन्द्र राज सिंह, जिला सूचना अधिकारी  आर0एस0 वर्मा सहित संबंधित उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
बडौरी टोल प्लाजा में अधिवक्ता के साथ हुई लूट के साथ गुंडई करते हुए जान से मारने की धमकी दी
चित्र
रोड को लेकर अब तक जनपद में कई जगहों पर हुआ सांसद का विरोध
चित्र
सरकार बनने पर बुंदेलखंड को अलग राज्य बनाया जाएगा - मायावती
चित्र
भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष 49 लोकसभा प्रत्याशी दीदी साध्वी निरंजन ज्योति के पक्ष में वोट करने की किया अपील
चित्र
पीएम मोदी बोले- कांग्रेस-सपा चारों खाने चित्त हो गई है: कांग्रेस ने इज्जत बचाने के लिए मिशन-50 सीट रखा
चित्र